02 December, 2022

Ramani Village Chamoli Uttrakhand | Beauty of Chamoli

रामणी गांव उत्तराखंड के चमोली जिले के घाट विकासखंड में स्थित है।जैसे कि नाम से ही एक सुंदर गाँव की कल्पना मन में आ जाती है।घाट से 31 किमी की दूरी पर बसा रामणी गाँव हिमालय की तलहटी  में स्थित है।

Ramani Village Chamoli Uttrakhand
Ramani Village Chamoli Uttrakhand

चमोली जिला मुख्यालय से 92 किमी की दूरी पर स्थित रामणी गांव का इतिहास भी काफी रोचक है।अंग्रेजी हुकूमत में गढ़वाल और कुमाँऊ के कमिश्नर रहे हैनरी रैमजे 1856 से 1884 तक कई बार रामणी गाँव आए।यहाँ की हिमालय पर्वतमालाओं के दृश्य और गाँव की सुंदरता को देख वो अभिभूत हो गया।पहले रैमजे के नाम से इस गाँव का नाम रैमजे पड़ा जो बाद में रामणी हो गया।स्थानीय लोग कहते है कि रामणी काफी रमणीक है और इसी से इसका नाम रामणी पड़ा।

रामणी गाँव के लोगो ने अपना जंगल भी बचा कर रखा हुआ है।सड़क और संचार सेवाओ से रामणी काफी पहले जुड़ चुका था।आलू और चौलाई यहाँ की प्रमुख फसल है।इसके अलावा अब गाँव के राजमा, मंडुआ और धान का भी उत्पादन करते है।

Ramani Village Chamoli Uttrakhand
Beauty of Chamoli – Ramani Village Chamoli Uttrakhand

रामणी गाँव में आज भी पत्थर और लकड़ी के बने मकान आपको दिख जायेंगे।इस गाँव से लार्ड कर्जन ट्रेक होकर गुजरता है।लार्ड कर्जन ने 1899 में अपनी यात्रा से पहले ग्वालदम से तपोवन तक करीब 200 किमी का पैदल ट्रेक बनवाया था।उसके बाद इस ट्रैक पर हर साल विदेशी ट्रेकर्स के आने का सिलसिला शुरू हो गया।

रामणी गाँव से बालपाटा बुग्याल और सप्तकुण्ड ट्रेक जाता है।रामणी गाँव से आप निजमुला घाटी भी जा सकते है।इस गॉंव में सर्दियों के समय बर्फ गिरती है।यहाँ से बेदनी बुग्याल दिखाई देता है।

Sandeep Gusain

नमस्ते साथियों।

मैं संदीप गुसाईं एक पत्रकार और content creator हूँ।
और पिछले 15 सालों से विभिन्न इलेक्ट्रानिक मीडिया चैनल से जुडे हूँ । पहाड से जुडी संवेदनशील खबरों लोकसंस्कृति, परम्पराएं, रीति रिवाज को बारीकी से कवर किया है। आपदा से जुडी खबरों के साथ ही पहाड में पर्यटन,धार्मिक पर्यटन, कृषि,बागवानी से जुडे विषयों पर लिखते रहता हूँ । यूट्यूब चैनल RURAL TALES और इस blog के माध्यम से गांवों की डाक्यूमेंट्री तैयार कर नए आयाम देने की कोशिश में जुटा हूँ ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *